आज़म खान के बयानों पर बवाल, रुकने का नहीं ले रहा नाम

आज़म खान के विवादित बयान से राजनीति , बॉलीवुड , महिला आयोग सब हुये नाराज़ , जयाप्रदा ने भी उखाड़े गड़े मुर्दे

0
427
azam khan jaya prada
Reading Time: 1 minute

2019 चुनावी मौसम, यहाँ हर नेता जनता के वोटों की बरसात चाहता है, उनके वोटों से भीगना चाहता है। लोकसभा चुनावो के इस मौसम में कुछ नेता अपनी ज़ुबान पर नियंत्रण नहीं रख पा रहे हैं।

हम बात कर रहे हैं समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खान की।

2019 लोकसभा चुनावों के लिए अपनी पार्टी और पार्टी के नेताओं को मजबूत करने के लिए रविवार को आज़म खान ने जनसभा को सम्बोधित करते हुए जयाप्रदा पर एक विवादित बयान दे दिया। उन्होंने कहा “जिसको हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाये, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया, उनकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है ” हालाँकि उन्होंने इसमें किसी व्यक्ति विशेष का नाम नहीं लिया, पर कहा जा रहा है कि उनका इशारा जयाप्रदा की ओर था।

आपको बता दें कि जयाप्रदा रामपुर से आज़म खान के विरुद्ध भारतीय जनता पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ रही हैं। आज़म खान काफ़ी समय से जयाप्रदा पर निशाना साध रहे थे। इससे पहले जयाप्रदा समाजवादी पार्टी की नेता थी। 3 अप्रैल के एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया की समाजवादी पार्टी में उनके साथ बदसलूकी होती थी , पार्टी में कोई उनका साथ नहीं देता था।

आज़म के इस बयान पर बॉलीवुड से आया ज़वाब –

बॉलीवुड के मशहूर एक्टर व प्रोड्यूसर ने ट्विटर के माध्यम से आज़म खान, असदुद्दीन ओवैसी और अबु आजमी पर निशाना साधा और कहा है कि ‘मैं दुआ करता हूँ कि यह सब लोग इन चुनावों में हार जाये’ उन्होंने यह भी कहा कि ‘गरीब मुसलमान इनकी चाल को समझ नहीं पाते हैं।

 

यह ट्विट्ट इन चुनावों के मौसम में खूब हिचकोले खा रहा है और लोग इसे बेहद ही दिलचस्प मान रहे हैं। 

Read This Also – Weird Tongue-in-cheek statements made by Indian Politicians

सुषमा स्वराज ने मुलायम से बोला – आपके सामने द्रौपदी का चीरहरण हो रहा है, आप भीष्म मत बनिए 

 

सुषमा स्वराज का यह बयान महाभारत के समय की याद दिलाता है जब पांडवो की रानी द्रौपदी का कौरव चीरहरण कर रहे थे उस समय वहां मौजूद भीष्म पितामह भी मात्र मूकदर्शक ही थे। जिस समय आज़म खान ने यह विवादित बयान दिया था उस वक्त वहां सपा प्रमुख अखिलेश यादव मौजूद थे।

जयाप्रदा ने एएनआई से की बात –

न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए उन्होंने कहा कि ” मेरे लिए यह कोई नई बात नहीं है, मुझे नहीं पता कि मैंने उनके साथ ऐसा क्या कर दिया कि वे ऐसी बातें कर रहे हैं” न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए जयाप्रदा ने कहा ”यह मेरे लिए नया नहीं है। आपको याद होगा कि मैं 2009 में उनकी पार्टी की उम्मीदवार थी। जब उन्होंने मेरे खिलाफ टिप्पणी की तो उस समय किसी ने भी मेरा समर्थन नहीं किया था। मैं एक महिला हूं और जो उन्होंने कहा वह मैं दोहरा भी नहीं सकती, मुझे नहीं पता कि मैंने उनके साथ क्या किया है, जो वे ऐसी बातें कह रहे हैं।

आज़म खान पर दर्ज हुई एफआईआर

आज़म खान के इस विवादित बयान पर एफआईआर दर्ज करवा दी गयी है। इस बयान को लेकर आज़म खान अब सफाई देते नज़र आ रहे हैं।

उनका कहना है कि ‘मैंने बीजेपी उम्मीदवार जयाप्रदा पर कोई भी आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की थी।’

आज़म खान ने एएनआई को दिए गये बयान में कहा कि ‘मैंने किसी का नाम नहीं लिया है। मैं जानता हूं कि मुझे क्या कहना चाहिए। अगर कोई साबित कर देता है कि मैंने कहीं भी किसी का नाम लिया है या किसी का अपमान किया है, तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा। आजम खान ने एएनआई से कहा कि ‘मैं दिल्ली के एक व्यक्ति का जिक्र कर रहा था जो अस्वस्थ है।’

महिला आयोग के द्वारा आज़म को नोटिस –

इस टिप्पणी पर राष्ट्रीय महिला आयोग के द्वारा ठोस कदम उठाये गये और उन्होंने आज़म खान को नोटिस भेजा है। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष का कहना है कि वह हमेशा महिलाओं के बारे में गंदी बातें करते हैं और इस चुनाव में महिला राजनेताओं के खिलाफ यह उनकी दूसरी टिप्पणी है, हम चुनाव आयोग से भी कड़ी कार्रवाई करने के लिए कह रहे हैं, क्योंकि उनको सबक सिखाने का वक्त आ गया है , अब उन्हें इसे रोकना ही होगा, महिलाएं सेक्स ऑब्जेक्ट नहीं हैं, मुझे लगता है महिला मतदाताओं को भी महिलाओं के साथ ऐसा बर्ताव करने वाले ऐसे लोगों के खिलाफ मतदान करना चाहिए।

अब ये तो वक़्त ही बताएगा कौन फ़तेह करेगा रामपुर का किला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here